पपीता खाने के फायदे ही नहीं हो सकते हैं ये नुकसान भी!

पपीता खाने के फायदे ही नहीं हो सकते हैं ये नुकसान भी!

Photo Credit by- ABP news

नई दिल्ली: यदि आप सोचते हैं कि पपीता खाने से सिर्फ फायदा ही होता है तो आप गलत सोच रहें हैं. क्या आप जानते हैं पपीता खाने के कई नुकसान भी हो सकते हैं. आज हम आपको बताएंगे क्यों पपीता आप के लिए सबसे अच्छा फल नहीं हो सकता.

पपीते से होने वाले फायदे-
अधिकत्तर लोग पपीता खाना बहुत पसंद करते हैं. बहुत सारे लोग इसे खाली पेट खाना पसंद करते हैं. इसमें औषधीय गुण हैं. आप इसे अपने सलाद के रूप में खा सकते हैं. पपीता एक एंटीबैक्टीरियल और एंटिफंगल के रूप में भी कार्य करता है. इसके पत्ते का उपयोग सामान्य रुप से डेंगू बुखार से लड़ने में मदद करता है.

पपीते से होने वाले नुकसान-
पपीते से हो सकता है गर्भपात का खतरा-  
एक तरफ जहां पपीते के कई फायदे हैं वहीं दूसरी तरफ इस फल के कई नुकसान भी हैं. गर्भवती महिलाओं को पपीता और अनानास खाने से बचना चाहिए. एक फल के रूप में पपीता में कई लाभ हैं लेकिन इसके बीज और जड़ गर्भपात का कारण बन सकता हैं. इसलिए गर्भावस्था के दौरान इस फल का सेवन ना करना ही एक बेहतर उपाय है.

अधिक पपीता खाने के नुकसान-
आप पपीते को अच्छा फल मानते हैं लेकिन इसका यह मतलब नहीं है कि आप इसका सेवन बहुत अधिक मात्रा में करेंगे. ज्यादा मात्रा में पपीते के सेवन से आपके फूड पाइप को चोट पहुंच सकती है. एक दिन में एक से अधिक पपीते का सेवन करने से बचें.

जन्मदोष
पपीते में एक एंजाइम पापाइन होता है. यह बच्चे के लिए जहरीला साबि‍त हो सकता है और इससे बच्चे को जन्मदोष भी हो सकता है. इसलिए ब्रेस्टफीडिंग के दौरान और बच्चे के जन्म से लेकर बच्चा होने तक पपीता से दूर रहना ही एक बेहतर विकल्प होगा.

एलर्जिक रिएक्शन-
कच्चा पपीता खाने से बचना चाहिए क्योंकि पपीते में उपस्थित लेक्टस नाम का एंजाइम एलर्जी की समस्या पैदा कर सकता है.

ब्लडप्रेशर रोगियों के लिए नुकसान दायक है पपीता-
पपीता बीपी रोगियों के लिए नुकसान दायक साबित हो सकता है. इसलिए यदि आप बीपी को कंट्रोल करने के लिए दवा ले रहे हैं  तो पपीता खाना आपके लिए खतरनाक हो सकता है.

फर्टीलिटी पर होता है इसका असर-
पुरुषों में यह शुक्राणुओं की संख्या को कम कर सकता है और शुक्राणु की गतिशीलता को भी प्रभावित करता है.

Write a Comment

view all comments

Your e-mail address will not be published. Also other data will not be shared with third person. Required fields marked as *